सपनों का गणतंत्र क्यों बन रहा विडंबनाओं का गणतंत्र?

       हमारे देश को गणतंत्र की राह पर चलने से पहले स्वतंत्र होना पड़ा। और यह स्वतंत्रता हमें इतनी भी आसानी से नहीं मिली जितनी की साल में दो दिन छब्बीस जनवरी और पन्द्रह अगस्त पर हम फेसबुक की प्रोफाइल पिक्चर को तीन रंगों में रंगकर अपनी राष्ट्रभक्ति का सार्वजनिक प्रदर्शन कर अपने … More सपनों का गणतंत्र क्यों बन रहा विडंबनाओं का गणतंत्र?

  नेताजी सुभाष चंद्र बोस की जयंती के अवसर पर

     भारतीय स्वाधीनता संग्राम के सेनानी, भारत रत्न सम्मानित, स्वाधीनता संग्राम में नवीन प्राण फूंकने वाले सर्वकालिक नेताजी सुभाष चन्द्र बोस का जन्म पिता जानकी नाथ बोस व माता प्रभा देवी के घर 23 जनवरी, 1897 को उड़ीसा के कटक में हुआ था। वे अपने 8 भाइयों और 6 बहनों में नौवीं संतान थे। … More   नेताजी सुभाष चंद्र बोस की जयंती के अवसर पर

कानून मंत्री श्री रविशंकर प्रसाद जी से निवेदन

श्रीमान जी, आज देश के आम नागरिकसमेत कोई भी बड़े से बड़ा नेता देश के प्रधान मंत्री को अपमान जनक तरीके से कुछ भीबोल देता है. राजनीतिक प्रतिद्वंद्विता एक अलग विषय है पार्टियों के कार्यकर्त्ताया नेता अपनी बात रखने के लिए स्वतन्त्र हो सकते हैं, परन्तु देश के प्रधान मंत्रीके लिए अपशब्द का प्रयोग सर्वथा … More कानून मंत्री श्री रविशंकर प्रसाद जी से निवेदन