तुच्छ राजनीति

    “वर्त्तमान विपक्षी नेताओं की हालत बिलकुल खिसियानी बिल्ली जैसी हो रही है.शायद वे समझते हैं सत्ता के अधिकारी सिर्फ वे ही हैं. अतः किसी अन्य पार्टी की सरकार को सहन कर पाना उनके लिए असंभव हो रहा है और इसी सोच के चलते वे सत्तारूढ़ पार्टी को सत्ता से हटाने के लिए सब कुछ … More तुच्छ राजनीति

स्वतंत्रता दिवस तथा पवित्र रक्षाबंधन पर्व की शुभकामनायें

  ‘‘भैया मेरे राखी के बन्धन को न भुलाना’’ तू मेरा कर्मा, तू मेरा धर्मा, तू मेरा अभिमान है! ‘‘हर करम अपना करेंगे, ऐ वतन तेरे लिए, हम जीएगे और मरेंगे ऐ वतन तेरे लिए!’’ लेखक एवं प्रेषक —-प्रदीप कुमार सिंह, लखनऊ             यह एक शुभ संयोग है कि रक्षा बंधन पर्व इस वर्ष भारत … More स्वतंत्रता दिवस तथा पवित्र रक्षाबंधन पर्व की शुभकामनायें

लोकमान्य बाल गंगाधर तिलक की पुण्य तिथि(1अगस्त ) के अवसर पर

प्रेषक एवं लेखक – प्रदीप कुमार सिंह, लखनऊ     तिलक समाज सुधारक, स्वतंत्रता सेनानी, गणितज्ञ, खगोलशास्त्री, पत्रकार और भारतीय इतिहास के विद्वान थे। वह लोकमान्य नाम से मशहूर थे। तिलक का जन्म 23 जुलाई, 1856 को महाराष्ट्र के रत्नागिरि में हुआ था। तिलक के पिता श्री गंगाधर रामचंद्र तिलक संस्कृत के विद्वान और प्रसिद्ध शिक्षक … More लोकमान्य बाल गंगाधर तिलक की पुण्य तिथि(1अगस्त ) के अवसर पर

खाद्य पदार्थों की बिक्री पर नियंत्रण आवश्यक

  सभी खाद्य पदार्थों विशेष कर फ़ास्ट फ़ूड एवं तैयार भोज्य पदार्थों की बिक्री पर नियंत्रण किया जाना बहुत आवश्यक है. हम अक्सर गली मुहल्लों में अनेक प्रकार के खाद्य पदार्थों को बिकते हुए देखते हैं. आम उपभोक्ता सिर्फ तैयार वस्तु के स्वाद पर ध्यान देता है, उसे इस बात से कोई मतलब नहीं होता … More खाद्य पदार्थों की बिक्री पर नियंत्रण आवश्यक