अव्यवस्थित सरकारी कार्य प्रणाली

    अंजलि रूहेला द्वारा प्रेषित        हमारे देश में भले ही आज कितनी ही योजनाएँ चल रही हैं और सरकारी कामकाज कितना ही कम्प्यूटरीकृत हो गया हो लेकिन सच यही है कि देश पिछड़ रहा है,और इस पिछड़ेपन के लिए कोई एक व्यक्ति जिम्मेदार नहीं है पूरा सिस्टम ही खराब है,सारी व्यवस्था … More अव्यवस्थित सरकारी कार्य प्रणाली

व्यापार है या आजीवन कारावास !!!

   “व्यक्तिगत रूप से दुकान पर नियमित तौर पर बिना विराम के समय देने वाले दुकानदारो के लिए एक बात यह भी सोचने की है वह कौन सा समय होगा जब आप स्वयं भी दुनिया के समस्त मनोरंजन के भागीदार बन सकेंगे, हो सकता है आपका लक्ष्य कुछ लाख कमा लेने तक सीमित हो या … More व्यापार है या आजीवन कारावास !!!

… कहीं लक्ष्य से तो नहीं भटक गई युवा आबादी

      किसी भी देश की अर्थव्यवस्था उस देश की रीढ़ होती है। इस अर्थव्यस्था में सभी क्षेत्रों की हिस्सेदारी होती है। लेकिन, इन सब के अलावा एक सबसे बड़ा फैक्टर उस देश की युवा आबादी होती है। इन्हीं युवाओं के कंधों पर देश को आगे बढ़ाने का भार होता है। वर्तमान परिपेक्ष्य में … More … कहीं लक्ष्य से तो नहीं भटक गई युवा आबादी