कांग्रेसियों के कारनामे(संग्रह कर्ता एवं प्रेषक — Hans Raj Bhatt)


देखो हर साल कांग्रेस कितना काम करती थी, खोदकर लाया हूँ उनके सारे कारनामे |

1987 – बोफोर्स तोप घोटाला, 960 करोड़

1992 – शेयर घोटाला, 5,000 करोड़।।

1994 – चीनी घोटाला, 650 करोड़

1995 – प्रेफ्रेंशल अलॉटमेंट घोटाला, 5,000 करोड़

1995 – कस्टम टैक्स घोटाला, 43 करोड़

1995 – कॉबलर घोटाला, 1,000 करोड़

1995 – दीनार / हवाला घोटाला, 400 करोड़

1995 – मेघालय वन घोटाला, 300 करोड़

1996 – उर्वरक आयत घोटाला, 1,300 करोड़

1996 – चारा घोटाला, 950 करोड़

1996 – यूरिया घोटाला, 133 करोड

1997 – बिहार भूमि घोटाला, 400 करोड़

1997 – म्यूच्यूअल फण्ड घोटाला, 1,200 करोड़

1997 – सुखराम टेलिकॉम घोटाला, 1,500 करोड़

1997 – SNC पॉवेर प्रोजेक्ट घोटाला, 374 करोड़

1998 – उदय गोयल कृषि उपज घोटाला, 210 करोड़

1998 – टीक पौध घोटाला, 8,000 करोड़

2001 – डालमिया शेयर घोटाला, 595 करोड़

2001 – UTI घोटाला, 32 करोड़

2001 – केतन पारिख प्रतिभूति घोटाला, 1,000 करोड़

2002 – संजय अग्रवाल गृह निवेश घोटाला, 600 करोड़

2002 – कलकत्ता स्टॉक एक्सचेंज घोटाला, 120 करोड़

2003 – स्टाम्प घोटाला, 20,000 करोड़

2005 – आई पि ओ कॉरिडोर घोटाला, 1,000 करोड़

2005 – बिहार बाढ़ आपदा घोटाला, 17 करोड़

2005 – सौरपियन पनडुब्बी घोटाला, 18,978 करोड़

2006 – ताज कॉरिडोर घोटाला, 175 करोड़

2006 – पंजाब सिटी सेंटर घोटाला, 1,500 करोड़

2008 – काला धन, 2,10,000 करोड

2008 – सत्यम घोटाला, 8,000 करोड

2008 – सैन्य राशन घोटाला, 5,000 करोड़

2008 – स्टेट बैंक ऑफ़ सौराष्ट्र, 95 करोड़

2008 – हसन् अली हवाला घोटाला, 39,120 करोड़

2009 – उड़ीसा खदान घोटाला, 7,000 करोड़

2009 – चावल निर्यात घोटाला, 2,500 करोड़

2009 – झारखण्ड खदान घोटाला, 4,000करोड़

2009 – झारखण्ड मेडिकल उपकरण घोटाला, 130 करोड़

2010 – आदर्श घर घोटाला, 900 करोड़

2010 – खाद्यान घोटाला, 35,000 करोड़

2010 S – बैंड स्पेक्ट्रम घोटाला, 2,00,000 करोड़

2011 – 2जी स्पेक्ट्रम घोटाला, 1,76,000 करोड़

2011 – कॉमन वेल्थ घोटाला, 70,000 करोड़

इनमे से 5 के नाम भी पता थे क्या ?

वो बेचारा अकेला इतनी मेहनत कर रहा है, पर तुम्हारी आदत है न हर चीज में डंडा करने की | अगर ये तंग आकर हट गया न तो, तुम्हे फिर यही कांग्रेस मिलेगी | जितने भी उसके बाहर घूमने से परेशान है, वो बाहर हनीमून नही मना रहा है | सुरक्षा मजबूत कर रहा है अपने देश की | आज तुम सबको को किसान दिख रहे, हैं और जब यूरिया और खाद घोटाला हुये तो, कुछ नही दिखा |

अगर दिल में अभी भी थोडी सी भी सच्ची जीवित हैं, तो स्वयं जागो और लोगों को भी जगाओ |

मोदीजी को प्रधानमंत्री बने, 4 वर्ष भी नहीं हुआ की, अच्छे दिन का ताना मारने लगे हैं कुछ लोग | वो लोग जर इनका भी कार्य काल देखो, और इन्होने क्या क्या किया हैं सोचो |

  1. जवाहरलाल नेहरु, 16 वर्ष 286 दिन
  2. इंदिरा गाँधी, 15 वर्ष 91 दिन
  3. राजीव गाँधी, 5 वर्ष 32 दिन
  4. मनमोहन सिंह, 10 वर्ष 4 दिन

कुल मिला कर 47 वर्ष 48 दिन में अच्छे दिन को ढूंढ नहीं सके और 3 वर्ष में हीं अच्छे दिन चाहिए

 चलो मान लिया कि राजीव गाँधी ने देश को कंप्यूटर दिया…पर साथ में सोनिया जैसा वायरस और पप्पू जैसा वीडियो गेम भी तो दिया है !! और अब ये कांग्रेसी क्या कर रहे हैं मोदी जी की प्रत्येक कदम का निरर्थक विरोध. उन्हें देश की या जनता की लेश मात्र की चिंता नहीं है, उन्हें चिंता है तो सिर्फ अपनी सत्ता को पाने के लक्ष्य की. इसी उद्देश्य को लेकर कांग्रेसी या अन्य विरोधी पार्टी के नेता आज भी जनता को भ्रमित करने से बाज नहीं आ रहे.

 

 

Advertisements

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  बदले )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  बदले )

Connecting to %s

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.