व्यापारी या निजी कारोबारी उपेक्षित क्यों ?

    व्यापारी या निजी कारोबारी देश की अर्थवयवस्था की रीढ़ होता है,सर्व समाज का पोषक होता है, बेरोजगार- जिसे कहीं भी रोजगार नहीं मिलता उसके लिए रोजगार के अवसर उपलब्ध कराता है. फिर भी समाज में इसे कभी सम्मान नहीं दिया जाता. अधिकतर शिक्षा ग्रहण कर रहे छात्रों की पसंद इंजिनियर, डॉक्टर, वकील, सी.ऐ., साइंटिस्ट, … More व्यापारी या निजी कारोबारी उपेक्षित क्यों ?

खाद्य पदार्थों को भी नियंत्रित करें मोदी जी.

भा.ज.पा. के सत्ता में आने के पश्चात् मोदी सरकार ने जनता के स्वास्थ्य की रक्षा के लिए बहुत सारे कार्य किये हैं.जैसे सरकारी अस्पतालों का उचित रख-रखाव, दवा मूल्यों पर प्रभावी नियंत्रण के लिय प्रधान मंत्री औषधि केन्द्रों की व्यवस्था, दवा निर्माताओं पर अंकुश लगते हुए मुख्य जीवन रक्षक दवाईयों एवं उपकरणों की कीमतों पर … More खाद्य पदार्थों को भी नियंत्रित करें मोदी जी.

जीवन का स्वर्णिम अध्याय है, चालीस और पचपन के मध्य की आयु

       यदि आप चालीस और पचपन आयु वर्ग में आते हैं तो आप एक स्वर्णिम आयु वर्ग में हैं और आपको इस सुनहरे अवसर का भरपूर आनंद उठाना चाहिए. अब जानते हैं ऐसा क्यों?              बाल्यावस्था–जब इन्सान जन्म लेता है तो उसे दुनिया की कोई जानकारी नहीं होती उसे चलना, फिरना, बोलना, खाना, पढना-लिखना, समझना, … More जीवन का स्वर्णिम अध्याय है, चालीस और पचपन के मध्य की आयु

भाई-बहन का प्यार है आज—ढेरों शुभकामनाएँ।।

प्रेषक एवं रचनाकार —-घनश्यामदास वैष्णव बैरागी (Ghanshyam G. Bairagi)  भाई दूज का त्यौहार   एक मिलन की चाहबहन की,ऐसा प्यार कभी न देखा।भाई-दूज पर्व है आया,देखो सैकड़ों खुशियाँ लाया।।भाई के घर बहन आई,दूध-मलाई बरफी लाई।मां-बाप ने देखे सपने,बच्चे हमारे साथ हों अपने।।आज दिखी है वही बानगी।भाई-दूज,दिन शुभ है आ गयी।।बंधे धागे एककच्चे-पक्के सब,बुढ़े-बच्चे सबरंग अनेक।खुशियाँ … More भाई-बहन का प्यार है आज—ढेरों शुभकामनाएँ।।

गणेश शंकर ‘विद्यार्थी’ के जन्म दिवस के अवसर पर

प्रेषक -एवं लेखक —प्रदीप कुमार सिंह कलम वह शक्तिशाली हथियार है जिसकी ताकत से विश्व को बदला जा सकता है!लोकतंत्र के चैथे स्तम्भ पत्रकारिता जगत के बन्धुओं को वैश्विक लोकतांत्रिक व्यवस्था (विश्व संसद) के गठन का संकल्प आज के महान दिवस पर लेना चाहिए!- विश्वात्मा भरत गांधी ब्रिटिश शासन के विरूद्ध पीड़ितों और गरीब किसानों … More गणेश शंकर ‘विद्यार्थी’ के जन्म दिवस के अवसर पर

“मितानिन” छत्तीसगढ़ में पिछले दो दशक से एक अनुकरणीय उदाहरण।

‘मितानिन’ मतलब देश के अन्य राज्यों में “आशा कार्यकर्ता”अर्थात स्वास्थ्य कार्यकर्त्ता मितानिन के कार्य सेवा और समर्पण से  मिल रही आम लोगों को संतुष्टि. छत्तीसगढ़ में स्वास्थ्य की बेहतर स्थिति हुई है,एवं  शिशु-मातृ मृत्यु दर में काफी कमी आयी है.  दुर्ग मेें गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू ग्राम पंचायत निकुम के स्वास्थ्य पंचायत सम्मेलन में दुर्ग विकासखंड के … More “मितानिन” छत्तीसगढ़ में पिछले दो दशक से एक अनुकरणीय उदाहरण।

असत्य पर सत्य की विजय का पर्व दशहरा

लेखक एवं प्रेषक – प्रदीप कुमार सिंह                 दशहरा हमारे देश का एक प्रमुख त्योहार है। मर्यादा पुरूषोत्तम श्री राम ने इसी दिन रावण का वध किया था। इसे असत्य पर सत्य की विजय के रूप में मनाया जाता है। इसीलिये दशमी को विजयादशमी के नाम से जाना जाता है। इस दिन जगह-जगह मेले लगते … More असत्य पर सत्य की विजय का पर्व दशहरा

डेंगू – जागरूकता, बचाव और रोकथाम के उपाय।

प्रेषक —- घनश्याम बैरागी  भिलाई  ( छत्तीसगढ़ )  सुंदर नीलकमल और मनीप्लांट के तले पलते हैं डेंगू के लार्वा  भिलाई मेें डेंगू रोकथाम के लिए बनी ब्रीडिंग चेकर टीम ऐसे स्थलों से लार्वा खोजकर नष्ट कर रहीं जहाँ आमतौर पर लोगों को यकीन करना मुश्किल है कि यहाँ भी इनके पनपने की आशंका हो सकती … More डेंगू – जागरूकता, बचाव और रोकथाम के उपाय।