मीडिया को और अधिक सक्रिय होना चाहिए.

(google.com, pub-1156871373620726, DIRECT, f08c47fec0942fa0)        हमारे दैनिक जीवन में अक्सर  अनेक प्रकार की दुर्घटनाओं की जानकारी मिलती रहती है, जिनमे सड़क हादसे, पुल गिरने के हादसे, रेल हादसे, आगजनी की घटनाएँ इत्यादि. अक्सर जब भी हम दुर्घटना की खबर समाचर पत्रों या इलेक्ट्रॉनिक मीडिया द्वारा प्राप्त करते हैं, तो उनमे बताया जाता है, … More मीडिया को और अधिक सक्रिय होना चाहिए.

हमारे देश की दोष पूर्ण चुनाव प्रणाली

        हमारे देश में चुनाव प्रणाली मूलतः दोष पूर्ण है जो बहुमत के सिद्धांत का पालन नहीं करती. कहा यह जाता है की हमारे देश में जनता का शासन है, और जनता बहुमत से अपने प्रतिनिधि को चुनकर सदन में भेजती है और चुने हुए प्रतिनिधि देश के लिए सरकार का गठन … More हमारे देश की दोष पूर्ण चुनाव प्रणाली

ये पैसा बोलता है।

        जैसा कि उक्त पंक्ति से बिल्कुल साफ है कि वर्तमान युग पूर्ण रूप से रुपयों पैसों पर आश्रित एक युग हो गया है। वर्तमान की तुलना में पहले के समय में रुपए-पैसे के साथ-साथ इंसानियत को भी महत्वता दी जाती थी। किंतु वर्तमान समय में मात्र एक मात्र रुपए को ही … More ये पैसा बोलता है।

सृष्टि का आरंभ दिवस भारतीय नववर्ष

       हमारी भारतीय संस्कृति के अनुसार प्रत्येक चैत्र मास की शुक्ल पक्ष की प्रथम तिथि को ‘नवसंवत्सर’ अर्थात् नववर्ष का शुभारंभ माना जाता है। इस दिन के अनेक धार्मिक, सांस्कृतिक व ऐतिहासिक महत्व है। पौराणिक कथाओं के अनुसार इस दिन ब्रह्माजी ने सृष्टि का निर्माण किया था और मानव सभ्यता की शुरुआत हुई … More सृष्टि का आरंभ दिवस भारतीय नववर्ष

समय के साथ चलिये और सफलता पाईये-what’s app से प्राप्त जानकारी

प्रेषक —–​श्याम सिंह आर्य ​      1998 में Kodak में 1,70,000 कर्मचारी काम करते थे और वो दुनिया का 85% फ़ोटो पेपर बेचते थे..चंद सालों में ही Digital photography ने उनको बाज़ार से बाहर कर दिया.. Kodak दिवालिया हो गयी और उनके सब कर्मचारी सड़क पे आ गए।   HMT (घडी),BAJAJ (स्कूटर),DYNORA (टीवी),MURPHY (रेडियो),NOKIA (मोबाइल),RAJDOOT (बाईक),AMBASDOR … More समय के साथ चलिये और सफलता पाईये-what’s app से प्राप्त जानकारी

व्यापार है या आजीवन कारावास !!!

   “व्यक्तिगत रूप से दुकान पर नियमित तौर पर बिना विराम के समय देने वाले दुकानदारो के लिए एक बात यह भी सोचने की है वह कौन सा समय होगा जब आप स्वयं भी दुनिया के समस्त मनोरंजन के भागीदार बन सकेंगे, हो सकता है आपका लक्ष्य कुछ लाख कमा लेने तक सीमित हो या … More व्यापार है या आजीवन कारावास !!!