अभूतपूर्व महामारी में बदलती विचारधारा

आज जिस प्रकार से चीन से प्रसारित हुई कोरोना वायरस की भयानक बीमारी ने पूरे विश्व समुदाय को पस्त कर दिया है,वह अभूतपूर्व है. जो देश अपनी समृद्धि और ताकत पर गर्व करते थे आज वे भी इस बीमारी के सामने घुटने टेक चुके हैं. सारी  विश्व की अर्थव्यवस्था को गहरा आघात  लगा है. इस … More अभूतपूर्व महामारी में बदलती विचारधारा

छुआ छूत और जात पात ने ही हिन्दू धर्म के अस्तित्व के लिए खतरा पैदा किया.

     हिन्दुओं में हजारों वर्षों से छुआ-छूत अर्थात जात-पात की कुप्रथा चली आ रही थी.जिसे बाबा साहेब भीम राव आंबेडकर के प्रयासों से संविधान के माध्यम से विराम लगा दिया गया. जिसने एक तरफ हजारों वर्षों से जुल्मों का शिकार बनते आ रहे पद-दलित और शोषित जाति वर्ग को सम्मान से जीने का अवसर प्राप्त … More छुआ छूत और जात पात ने ही हिन्दू धर्म के अस्तित्व के लिए खतरा पैदा किया.

पूर्वोदय मिशन” से,स्थानीय उद्योगों को मिलेगा प्रोत्साहन

     प्रेषक —–घनश्यामदासवैष्णव बैरागी- भिलाई  (छत्तीसगढ़) भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश के पूर्वी क्षेत्र की समृद्धि और विकास के लिए 2018 में एक दूरदर्शी पहल करते हुए “पूर्वोदय मिशन” का आह्वान किया था। पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस तथा इस्पात मंत्री धर्मेन्द्र प्रधान ने इस मिशन को आगे बढ़ाते हुए 11 जनवरी 2020 को कोलकाता … More पूर्वोदय मिशन” से,स्थानीय उद्योगों को मिलेगा प्रोत्साहन

गणेश शंकर ‘विद्यार्थी’ के जन्म दिवस के अवसर पर

प्रेषक -एवं लेखक —प्रदीप कुमार सिंह कलम वह शक्तिशाली हथियार है जिसकी ताकत से विश्व को बदला जा सकता है!लोकतंत्र के चैथे स्तम्भ पत्रकारिता जगत के बन्धुओं को वैश्विक लोकतांत्रिक व्यवस्था (विश्व संसद) के गठन का संकल्प आज के महान दिवस पर लेना चाहिए!- विश्वात्मा भरत गांधी ब्रिटिश शासन के विरूद्ध पीड़ितों और गरीब किसानों … More गणेश शंकर ‘विद्यार्थी’ के जन्म दिवस के अवसर पर

असत्य पर सत्य की विजय का पर्व दशहरा

लेखक एवं प्रेषक – प्रदीप कुमार सिंह                 दशहरा हमारे देश का एक प्रमुख त्योहार है। मर्यादा पुरूषोत्तम श्री राम ने इसी दिन रावण का वध किया था। इसे असत्य पर सत्य की विजय के रूप में मनाया जाता है। इसीलिये दशमी को विजयादशमी के नाम से जाना जाता है। इस दिन जगह-जगह मेले लगते … More असत्य पर सत्य की विजय का पर्व दशहरा

11 जुलाई – विश्व जनसंख्या दिवस पर विशेष लेख

लेखक एवं प्रेषक – प्रदीप कुमार सिंह, लखनऊ             विश्व जनसंख्या दिवस मनाने की शुरूआत 11 जुलाई 1989 में संयुक्त राष्ट्र विकास कार्यक्रम की संचालक परिषद् द्वारा हुई थी। दरअसल 11 जुलाई 1987 तक वैश्विक जनसंख्या का आंकड़ा 5 अरब के भी पार हो चुका था, वैश्विक हितों को ध्यान में रखते हुए इस दिवस … More 11 जुलाई – विश्व जनसंख्या दिवस पर विशेष लेख

व्यापारी या निजी कारोबारी पक्षपात का शिकार  

      आजादी के पश्चात् अस्तित्व में आये अनेक व्यापार संगठनों के जो नेता कहलाते हैं, वे सिर्फ व्यापारी को मूर्ख बनाकर अपना स्वार्थ सिद्ध करते हैं,अपना राजनैतिक भविष्य सुनिश्चित करते हैं. क्योंकि वे तो विशिष्ट व्यक्ति बन जाते हैं, उन्हें भरण पोषण की समस्या क्यों आने वाली ? समृद्ध व्यापारी-कारोबारी भी यही सोचते … More व्यापारी या निजी कारोबारी पक्षपात का शिकार  

Amazing Quotes by A. P. J. Abdul Kalam .

 “If a country is to be corruption free and become a nation of beautiful minds, I strongly feel there are three key societal members who can make a difference. They are the father, the mother and the teacher.” “My message, especially to young people is to have courage to think differently, courage to invent, to … More Amazing Quotes by A. P. J. Abdul Kalam .

खुशहाल जीवन के लिए आवश्यक परिवार नियोजन

         (विश्व जनसंख्या दिवस 11जुलाई  के अवसर पर)       अनियंत्रित गति से बढ़ रही जनसंख्या देश के विकास को बाधित करने के साथ ही हमारे आम जन जीवन को भी दिन-प्रतिदिन प्रभावित कर रही है। विकास की कोई भी परियोजना वर्तमान जनसंख्या दर को ध्यान में रखकर बनायी जाती है, … More खुशहाल जीवन के लिए आवश्यक परिवार नियोजन